विश्व क्रिकेट के 5 महारिकॉर्ड, जो गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड मे दर्ज है,आप भी जानिए

loading...
दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में आप लोगों को बताने वाले हैं. कि क्रिकेट में आए दिन कुछ नए रिकॉर्ड बनते हैं. और कुछ पुराने टूटते हैं. लेकिन कुछ रिकॉर्ड ऐसे होते हैं. जो वर्षों तक अपनी छाप छोड़ते हैं. लेकिन दोस्तों हम आप लोगों को बताने वाले हैं. विश्व क्रिकेट के कुछ ऐसे ही रिकॉर्ड के बारे में जिन्हें गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में जगह मिल चुकी है. तो आइए दोस्तों जान लेते हैं.

5-maharicords-of-world-cricket

1.विश्व क्रिकेट में पहला ब्लाइंड विश्व कप साल 1998 में खेला गया था. इस टूर्नामेंट में पाकिस्तान के ओपनर बल्लेबाज मसूद जन ने दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध मुकाबले में नाबाद 262 रन की पारी खेली थी. यह पारी ब्लाइंड क्रिकेट में किसी भी बल्लेबाज द्वारा खेली गई सबसे बड़ी व्यक्तिगत पारी है. मसूद का यह वर्ल्ड रिकॉर्ड पिछले 22 वर्षों से गिनीज बुक में भी दर्ज है.

2. ऑस्ट्रेलियाई महान बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमैन को कौन नहीं जानता. उनकी एक-एक चीज उनके फैंस के लिए अनमोल है. खासतौर पर उनकी वह टोपी जो उन्होंने अपने और आखिरी टेस्ट क्रिकेट मुकाबले में पहनी थी. इस टोपी को जून 2003 टिम सिरिसर नामक सेलिब्रिटी जिन्होने ‘हू वांट्स टू बी ए मिलिनियर’ शो जीता था ने 283,000 यूएस डालर की बोली लगाकर खरीदा था. यह क्रिकेट इतिहास की सबसे महंगी चीज के रूप में नीलाम हुई.

3. क्रिकेट के इतिहास में कई बड़े टूर्नामेंट के रिकॉर्ड मौजूद है. लेकिन सबसे बड़े टूर्नामेंट का रिकॉर्ड की इंडिया के नाम है. वर्ष 2013 में ईनाडू क्रिकेट चैंपियन कप के नाम से एक टूर्नामेंट खेला गया था. जो कि इंडिया के अलग-अलग हिस्सों में 30 दिसंबर 2013 से 20 फरवरी 2014 के बीच खेला गया था.

4. मुंबई के गवर्नर राजा महाराज सिंह के नाम से सबसे अधिक उम्र में रणजी मुकाबले खेलने का रिकॉर्ड मौजूद है. उन्होंने 72 वर्ष 192 दिन की उम्र में अपना फर्स्ट क्लास मैच खेला. हालांकि इस मुकाबले में वह केवल 4 रन ही बना सके.

5-maharicords-of-world-cricket

5. साल 2011 इंडिया व श्रीलंका के मध्य खेले गए वर्ल्ड कप फाइनल मैच को कौन भूल सकता है. महेंद्र सिंह धोनी ने जिस बैट से बेहतरीन छक्का जड़कर भारतीय क्रिकेट टीम को जीत दिलाई थी. उस बेटी को आर के ग्लोबल शेयर एंड सिक्योरिटी लिमिटेड नामक कंपनी ने 161,295 डालर में खरीदा था. आपको जानकर हैरानी होगी कि यह क्रिकेट के इतिहास में किसी भी बैट की सबसे महंगी नीलामी थी.