द ग्रेट गामा पहलवान के जीवन के ये 5 राज़ नहीं जानते होंगे आप, न० 3 को जानकर आप भी दंग रह जाएगे

loading...
5-secrets-of-the-life-of-the-great-gamma-wrestler

भारत में रेसलिंग की शुरुआत कई वर्षों से पहले हुई थी, लेकिन इसे विश्वस्तर पर लेकर जाने में रुस्तम-ए-हिन्द द ग्रेट गामा पहलवान का बड़ा योगदान रहा. द ग्रेट गामा पहलवान अपने समय के शानदार पहलवान रहे और उन्होंने महज 17 वर्ष की उम्र में अपने से बड़े 7 फीट के कश्मीरी पलवान को चुनौती दे डाली थी. ऐसे ही बहुत से किस्से गामा पहलवान को लेकर चर्चित रहे हैं. आज के इस लेख में द ग्रेट गामा पहलवान के जीवन कुछ राज़ आपको बताने जा रहे हैं.

1. गामा पहलवान का असली नाम गुलाम हुसैन बख्श है, इनका जन्म पंजाब, अम्रतसर के जब्बोवल गाँव में 22 मई 1878 में हुआ था.

5-secrets-of-the-life-of-the-great-gamma-wrestler

2. गामा पहलवान की हाइट महज 5 फीट 8 इंच थी, लेकिन 46 इंच की चौड़ी छाती वाले रुस्तम-ए-हिन्द ने भारत का नाम विश्वभर में गर्व से ऊंचा कर दिया.

3. एक बार द ग्रेट गामा पहलवान ने इंग्लिश पहलवान ने स्टैनिसलॉस जबिश्को और फ्रैंक गॉच को चुनौती दे डाली थी. जिसे बाद में अमेरिकी पहलवान रोलर ने स्वीकार किया. द ग्रेट गामा ने महज 1 मिनट 40 सेकंड में उसे पछाड़ दिया.

4. इंग्लैंड से भारत लौटने के बाद गामा और रहीम बख्श सुल्तानीवाला के बीच इलाहाबाद में कुश्ती हुई। यह कुश्ती काफ़ी देर तक चली और गामा ने इस कुश्ती को जीतकर रुस्तम-ए-हिंद का ख़िताब जीता।

5-secrets-of-the-life-of-the-great-gamma-wrestler

5. 10 सितंबर 1910 को, लंदन के ‘जॉन बुल बैल्ट’ विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में गामा ने विश्व चैंपियन ‘स्टेनिस्लस ज़िबेस्को’ का सामना किया। मैच £250 (₹22000) पुरस्कार राशि के लिए था। लगभग तीन घंटों तक कुश्ती होने के बाद ज़िबेस्को और गामा के बीच यह मुकाबला ड्रा हो गया। दूसरे दिन, जब ज़िबेस्को और गामा के बीच मुकाबला होना था तो ज़िबेस्को डर के मारे मैदान में ही नहीं आया और फिर गामा को विजेता घोषित किया गया।

उम्मीद करता हूँ दोस्तों आपको यह खाश जानकारी बहुत पसंद आई होगी. अगर जानकारी पसंद आए तो लाइक एंड शेयर जरुर करे.