दीपिका सिंह की कोरोना पॉजिटिव मां को इलाज न मिलने से घबराई, सीएम अरविंद केजरीवाल से लगाई मदद की गुहार

loading...
deepika-singh-requested-to-delhi-cm-arvind-kejriwal-as-her-mother-tested-positive-for-covid-19

कोरोना पॉजिटिव मां को इलाज न मिलने से घबराई 'दिया और बाती हम' स्टार दीपिका सिंह, सीएम अरविंद केजरीवाल से लगाई मदद की गुहार
कोरोना वायरस के कहर के आगे देश-विदेश के लोग लाचार नजर आ रहे हैं। केस की संख्या में बढ़ोतरी होने की वजह से अब देश के हॉस्पिटल में इलाज मिल पाना भी काफी मुश्किल हो रहा है। जिसकी वजह से लोगों को कई तरह की परेशानियों का सामान करना पड़ रहा है।

इस समय कुछ ऐसा ही हाल टीवी सीरियल 'दिया और बाती हम' (Diya Aur Baati Ham ) में नजर आ चुकी दीपिका सिंह (Deepika Singh) का भी है। हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर करके दीपिका सिंह ने इस बात की जानकारी दी है कि दिल्ली में रह रही उनकी मां कोरोना पॉजिटिव हो गई हैं। इलाज के लिए दीपिका सिंह की मां को हॉस्पिटल में बेड नहीं मिल पा रहा है। मां की इस हालत को देखकर दीपिका सिंह काफी घबरा गई हैं क्योंकि उनके परिवार में 45 लोग रहते हैं। मां की बीमारी के चलते इन लोगों पर भी कोरोना का साया मंडराने लग गया है।


सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर करते हुए दीपिका सिंह ने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से मदद की गुहार भी लगाई है। अपनी वीडियो में दीपिका सिंह कहती नजर आ रही हैं कि, '5 दिन पहले मेरी मां का कोरोना टेस्ट करवाया गया था। अस्पताल के लोग मेरी मां की कोरोना रिपोर्ट की कॉपी देने के लिए तैयार नहीं है। वो लोग बार बार केवल फोटो खींचने के लिए कह रहे हैं। बिना रिपोर्ट के कोई भी अस्पताल मेरी मां को भर्ती करने के लिए तैयार नहीं है।'

deepika-singh-requested-to-delhi-cm-arvind-kejriwal-as-her-mother-tested-positive-for-covid-19

आगे दीपिका सिंह ने कहा कि, 'मेरा परिवार पहाड़गंज के आर्य नगर में रहता है जिसमें 45 लोग साथ रहते हैं। मां के घर में रहने से अब मेरी दादी को भी सांस लेने में दिक्कत होने लगी। इतना ही नहीं मेरे पापा में भी कोरोना के लक्षण साफ दिखने लगे हैं। अगर जल्द ही मेरी मां को अस्पताल में भर्ती नहीं करवाया गया तो मेरे परिवार पर कोरोना वायरस का खतरा और भी बढ़ जाएगा.

दीपिका सिंह ने अरविंद केजरीवाल से गुजारिश करते हुए कहा कि, 'मैं सीएम और दिल्ली सरकार की तरफ से मदद चाहती हूं। मुझे नहीं समझ आ रहा है कि मुझे इस समय क्या करना चाहिए। मेरी मां इस समय बहुत तकलीफ में है। मैं मुंबई में हूं और दिल्ली में हमारी कोई नहीं सुन रहा है। मेरी बहन भी दिल्ली पहुंची हुई है लेकिन वह भी मेरी मां की कोई मदद नहीं कर पा रही है।'